टाटा मोटर्स ने कर दिखाया ये कमाल, खबर पढकर आप भी हो जायेंगे खुश..

0
849

नई दिल्ली। घरेलू वाहन कंपनी टाटा मोटर्स ने बीते वित्त वर्ष के दौरान घरेलू वाणिज्यिक बाजार खंड में 44% हिस्सेदारी हासिल कर ली। कंपनी घरेलू वाहन बाजार अपनी खोई हिस्सेदारी पाने के लिए कायापलट की योजना पर काम कर रही है।

वाहन विनिर्माताओं के संगठन सियाम के आंकड़ों के अनुसार टाटा 2017-18 में टाटा मोटर्स ने 23.17% बढ़ोतरी के साथ 3,76,456 वाणिज्यिक वाहन बेचे। इससे पहले 2016-17 में यह संख्या 3,05,620 इकाई रही थी।

आलोच्य वित्त वर्ष में देश में वाणिज्यिक वाहनों की कुल बिक्री 8,56,453 इकाई रही जो 2016-17 में 7,14,082 इकाई थी। वहीं बाजार भागीदारी के लिहाज से टाटा मोटर्स की भागीदारी बढकर 43.95% हो गई जो 2016-17 में 42.79% थी।

टाटा मोटर्स के अध्यक्ष (वाणिज्यिक वाहन) गिरीश वाघ ने कहा कि टाटा मोटर्स के वाणिज्यिक वाहन खंड के लिए बीता वित्त वर्ष महत्वपूर्ण रहा। कंपनी की कायापलट योजना में घरेलू वाणिज्यिक  वाहन खंड को पटरी पर लाना मुख्य है। यह अच्छी बात है कि मजबूत उत्पाद पोर्टफोलियो की मदद से हमने अच्छी वृद्धि दर्ज की।

उन्होंने कहा कि समय पर उत्पादों की पेशकश, लागत में कमी तथा बिक्री बढाने पर जोर से कंपनी को बिक्री व बाजार भागीदारी बढ़ाने में मदद मिली।

टाटा मोटर्स ने अपने हल्‍के वाणिज्यिक वाहन (एलसीवी) टाटा एस का पहला नया संस्करण एस गोल्‍ड को लॉन्‍च करने की घोषणा की है। इसकी एक्‍स-शोरूम (नई दिल्‍ली) कीमत 3.75 लाख रुपए है। इसे अधिक सुरक्षा और आराम के साथ पेश किया गया है। कंपनी ने कहा कि टाटा एस को मई 2005 में सबसे पहले पेश किया गया था। उसके बाद से अब तक टाटा एस गोल्ड इस मिनी ट्रक का पहला नया संस्करण है।

कंपनी ने कहा कि यह संस्करण बिक्री के लिए देशभर में स्थित उसके सभी अधिकृत विक्रेताओं के पास उपलब्‍ध है। कंपनी ने बयान में कहा कि उसके पास मिनी ट्रक श्रेणी में 68 प्रतिशत बाजार हिस्सेदारी है और उसने पिछले 13 साल में 20 लाख से अधिक टाटा एस वाहनों की बिक्री की है।

कंपनी की व्यावसायिक वाहन कारोबार इकाई के प्रमुख गिरीश वाघ ने कहा कि ‘विस्तृत फीचरों के साथ 3.75 लाख रुपए की कीमत पर टाटा एस गोल्ड को पेश किया जाना इसे उपभोक्ताओं के लिए अधिक आकर्षक बनाएगा। उल्लेखनीय है कि इस ट्रक को आम लोगों के बीच छोटा हाथी नाम से भी जाना जाता है।

टाटा एस गोल्‍ड की डिजाइन में कोई बदलाव नहीं किया गया है। इसमें 702सीसी डीआई डीजन आईडीआई इंजन लगा है। टाटा एस को आसान रखरखाव, निम्‍न परिचालन लागत और कारोबार में उच्‍च लाभ के लिए जाना जाता है। टाटा मोटर्स एस प्‍लेटफॉर्म पर 15 मॉडल की बिक्री करती है, जो विभिन्‍न इंजन विकल्‍पों के साथ आते हैं।

टाटा के वाणिज्यिक वाहनों की देश में विस्‍तृत पहुंच है और इसके देशभर में 1800 सर्विस प्‍वाइंट हैं। प्रति 62 किलोमीटर पर एक वर्कशॉप है। कंपनी ने एस गोल्‍ड ग्राहकों के लिए एक सहायता कार्यक्रम टाटा अलर्ट की भी पेशकश की है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here