योगी ने दिए आदेश तो मुस्लिम इलाके में घुस गयी यूपी पुलिस, फिर हुआ ऐसा सनसनीखेज खुलासा, चौंक उठे मोदी-शाह

0
463

लखनऊ : कश्मीर में और बॉर्डर पर देश आतंकवाद से जूझ रहा है, मगर उससे भी बड़ी समस्या देश के अंदर ही अंदर पल रही है. देश के कई इलाके कट्टरपंथियों के गढ़ बन चुके हैं. पिछली सरकारों ने वोटबैंक की खातिर बड़ी जातां से इन जिहादियों को पाला-पोसा.

यही कारण है कि आज इन कट्टरपंथियों की हिम्मत इतनी बढ़ चुकी है कि ये खुलकर दंगे-फसाद करने से नहीं चूकते. यूपी में सीएम योगी आदित्यनाथ के सख्त एक्शन के बाद एक ऐसे ही आतंक के गढ़ का सफाया हुआ है.

यूपी में अवैध हथियारों का जखीरा

योगी के सीएम बनने के बाद से यूपी पुलिस को सख्त आदेश दिए गए हैं कि जिहादियों का खात्मा किया जाए. यूपी पुलिस के हालिया एक्शन में ऐसे मामले सामने आ रहे हैं, जिससे पता चल रहा है कि अन्दर ही अंदर यूपी को भी देश का दूसरा बंगाल बनाने की तैयारिया चल रही थी.

प्रदेश के अंदर जिहादी अवैध हथियारों की फेक्ट्रियां चला रहे थे, जिन पर योगी सरकार ने शिकंजा कसना शुरू कर दिया है. अभी हाल में ही मथुरा क्षेत्र के खायरा गाँव में यूपी पुलिस ने छापेमारी की, तो वहां से जो कुछ बरामद हुआ, उसे देख यूपी पुलिस भी हैरान रह गयी.

हर घर में मिले हथियार

दरअसल खायरा गाँव इस्लामिक बहुल गाँव हैं, जहाँ पूर्ववर्ती सरकारों में पुलिस की जाने की हिम्मत तक नहीं होती थी, लेकिन योगीराज में इन जिहादियों पर शिकंजा कस गया है. इसके अलावा उत्तर प्रदेश में मथुरा के बरसाना क्षेत्र में भी पुलिस ने छापा मारा. बताया जा रहा है कि तालाशी के दौरान यहाँ घर-घर से हथियार व् भारी मात्रा में असलहा बरामद हुआ.

इसके अलावा पुलिस ने यहाँ एक हथियार बनाने की फैक्ट्री का भंडाफोड भी किया. बताया जा रहा है कि मुस्लिम बहुल इलाकों में जिहादी तत्व अवैध हथियारों की फैक्ट्रियां चला रहे थे और यहाँ से यूपी को दहलाने की बड़ी साजिश रची जा रही थी, लेकिन सीएम योगी के कारण प्रदेश को जलने से बचा लिया गया.

यूपी को दहलाने की साजिश का पर्दाफ़ाश

पुलिस अधीक्षक देहात आदित्य कुमार शुक्ला ने बताया कि हथियारों की फैक्ट्री चलने के साथ-साथ चोरी के वाहन की मौजूदगी की सूचना पर कल कई थानों के पुलिसबल व् तीन प्लाटून पीएसी लगाकर हाथिया गांव की गहनता से तलाशी ली गई तो न केवल हथियारों की फैक्ट्री मिली, बल्कि 315 बोर की एक देसी रायफल, 315 बोर की एक सीएमपी, 315 बोर के 15 कारतूस, 12 बोर की दो देसी बंदूकें, 12 बोर के 10 कारतूस के अलावा भारी मात्रा में देसी शराब, एक टाटा 407, एक किलो गांजा भी बरामद किया गया.

उन्होंने बताया कि इस सिलसिले में गांव के अली हुसैन, शब्बीर को मौके से गिरफ्तार किया गया. तलाशी के दौरान दो मोटर साईकिल एवं दो ट्रैक्टर भी बरामद हुए हैं, जिनके सम्बन्ध में जानकारी की जा रही है. अभियुक्तों से बरामद नाजायज असलहों एवं अवैध शराब के मामले मुकदमा दर्ज कर आवश्यक कार्रवाई की जा रही है. पुलिस के अनुसार पांचों अभियुक्त की गिरफ्तारी से अपराधों की कुछ नई पर्तें खुलने की संभावना है.

उत्तर प्रदेश में बड़े पैमाने पर दंगे-फसाद करके कत्लेआम मचाने की साजिश की रही थी. गौरतलब है कि बंगाल में भी इसी तरह से घर-घर में हथियार व् देसी बम बनाने के कारखाने चलते हैं और इन्ही का इस्तमाल करके वहां हिन्दुओं के खिलाफ दंगे भड़काए जाते हैं. कुछ ऐसा ही हाल यूपी का भी होने जा रहा था, मगर सीएम योगी की सतर्कता के कारण यूपी में अनहोनी होने से पहले ही टल गयी.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here