सीएम योगी की राह पर चले अब नितीश कुमार, राम मंदिर से पहले किया ज़बरदस्त एलान, कट्टरपंथियों के सीने की जलन हुई दुगनी

0
252

राम मंदिर का मुद्दा सुप्रीम कोर्ट में चल रहा है, जिस पर पिछले कई दशकों से सुनवाई चल रही है और तारिख पर तारिख आगे बढ़ती जा रही है, खुद कांग्रेस इस मुद्दे पर एड़ी चोटी का ज़ोर लगाकर इसे 2019 चुनाव तक टलवाने पर तुली हुई है. लेकिन आखिर कितने मंदिर पर कट्टरपंथी आवाज़ उठाएंगे. अब खुद नितीश कुमार ने बेहद शानदार फैसला लिया है जिसे सुनने के बाद कइयों के सीने की जलन दुगनी ज़रूर हो जाएगी.

सीएम योगी के पदचिन्हो पर चले नितीश कुमार, किया शानदार एलान

अभी मिल रही बड़ी खबर अनुसार अयोध्या में राम मंदिर पर फैसला आने से पहले बिहार के सीतामढ़ी जिले में स्थित पुनौरा धाम को नीतीश सरकार ने भव्य रूप देने का फैसला किया है. बिहार सरकार पुनौरा धाम में जगत जननी माँ सीता के मंदिर का पुनर्निर्माण कराएगी इसे बेहद विशाल भव्य और सुन्दर बनाया जायेगा.

इसके लिए पूरी तैयारियां ज़ोरशोर से चल रही हैं. बिहार के सीएम नीतीश कुमार भव्य मंदिर की आधारशिला रखेंगे. द न्यू इंडियन एक्सप्रेस के मुताबिक 24 अप्रैल को पुनौरा धाम में भव्य कार्यक्रम का आयोजन किया जाएगा,
बीजेपी के उपाध्यक्ष प्रभात झा ने इस संबंध में सभी विधायकों को निमंत्रण पत्र भेजा है। 17 अप्रैल से शुरु हो रहे वार्षिक जानकी फेस्टिवल में नीतीश कुमार मंदिर पुनर्निमाण की घोषणा करेंगे.

बीजेपी पहले प्रभात झा पहले से कहते रहे हैं कि सीता जी पुनौरा धाम में पृथ्वी से बाहर निकली थीं, लिहाजा वहां भव्य मंदिर का निर्माण होना चाहिए। बीजेपी सांसद सुब्रमण्यम स्वामी ने पिछले साल कहा था कि मर्यादा पुरषोत्तम राम की कल्पना आप जगत जननी जानकी के बिना नहीं कर सकते हैं.

कुछ लोगों का मानना है कि उनका जन्म नेपाल के जनकपुर में हुआ था। लेकिन दूसरे लोग कहते हैं कि सीतामढ़ी जिले में सीताकुंड से बाहर आई थीं। राम नवमी को पूरे देश में मनाया जाता है.

आपको याद दिला दें 2015 में सीएम बनने के बाद नीतीश कुमार ने अपनी पहली कैबिनेट बैठक में जानकी नवमी मनाने का फैसला किया था. प्रभात झा ने द न्यू इंडियन एक्सप्रेस से कहा कि इसमें किसी तरह का संदेह होना ही नहीं चाहिए कि पुनौरा धाम में ही पृथ्वी के अंदर से सीता जी अवतरित हुईं थीं.

इसके साथ ही बीजेपी सांसद प्रभात झा ने कहा कि बिहार के सीएम नीतीश कुमार इस बात पर सहमत हैं कि पुनौरा धाम को नालंदा और वैशाली विश्वविद्यालय की तर्ज पर विकसित किया जाएगा. उन्होंने कहा कि धार्मिक पर्यटन को बढ़ावा देने के लिए वो बुद्ध सर्किट की तर्ज पर सीता सर्किट बनाए जाने की अपील करेंगे.

सीएम नितीश भी अब योगी कि राह चल पड़े हैं, सीएम योगी अयोध्या को पोरे देश का सबसे बड़ा पर्यटन स्थल बनाने जा रहे हैं, इसके लिए 108 फ़ीट ऊँची भगवन श्री राम कि मूर्ति भी बन रही है. तो अब बिहार में भी माता सीता का विशाल मंदिर बन रहा है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here