आखिरकार सामने आ ही गया कठुआ मामले का सच, इस वीडियो को देखकर आप भी हिल जाएंगे…

0
532

धरती का स्वर्ग कहे जाने वाले जम्मू-कश्मीर में आठ साल की बच्ची के साथ हुए कुकर्म की घटना ने सबको सदमे में ला दिया. मानवीय सवेदनाओं की बात करने वाले भारतीय समाज में इस तरह की घटना भी हो सकती है यह किसी ने सोचा भी नहीं होगा.

इस मामले में कुछ लोग तो यहाँ तक गिर गए हैं कि वो इस मुद्दे को हिंदू मुस्लिम से जोड़कर इसपर राजनीति करने की कोशिश कर रहे हैं. ऐसे में कहा जा सकता है कि आज के समाज में लोग किसी के साथ हुई दुर्घटना पर भी राजनीति करके अपना फायदा करना चाहते हैं. ऐसे लोग भारत को नहीं पूरी मानवता को भी शर्मसार करते हैं. इसी बीच कठुआ मामले को लेकर एक बड़ा खुलासा किया जा रहा है.

कठुआ रेप मामले में क्राइम ब्रांच द्वारा जो रिपोर्ट पेश की गई है उसपर आप एबीपी न्यूज चैनल द्वारा दिखाई गई रिपोर्ट को देखने के बाद यकीन नहीं करेंगे. बता दें कि गैंगरेप की घटना के बाद चर्चाओं में आया जम्मू-कश्मीर का रासना गाँव जंगलों से घिरा है.

ज्यादातर इस जंगल में घोड़े और अन्य जानवर घास खाने आते हैं. इस जंगल के बीच में ही बाबा कालीवीर का मंदिर स्थित है. जम्मू-कश्मीर पुलिस की चार्जशीट की मानें तो इस मंदिर में ही आठ साल की बच्ची को नशे की हालत में रखा गया था और उसके साथ कुछ लोगों ने गैंगरेप किया था. इस मामले में गाँव के लोगों का क्या कहना है ये आप नीचे दिए गए वीडियो को देखने के बाद जान सकते हैं.

देखें वीडियो-

वीडियो को देखने के बाद आपको पता लग गया होगा कि कैसे गाँव के लोग क्राइम ब्रांच की रिपोर्ट के अलग बात कर रहे हैं. मंदिर के ढाँचे को देखकर भी पता लग रहा है कि इसमें किसी का छिपना बहुत मुश्किल है. मुख्‍य आरोपी संजीराम से जुड़े बारह ब्राह्मण परिवारों में से एक के सदस्‍य धर्मपाल शर्मा ने कहा कि तीन गावों के पास इस मंदिर की चाभियां हैं. उन्‍होंने कहा, ‘तीन गांवों के लोग यहां पर पूजा करने आते हैं.

गाँव के लोग भी समय-समय पर यहाँ दर्शन करने आते रहते हैं तो फिर यहाँ रेप कैसे हो सकता है. इसी के साथ इस घटना के मुख्य आरोपी संजीराम की बेटी मोनिका शर्मा ने मीडिया से हुई बातचीत में बताया कि “यह कहना शर्मनाक है कि एक बुजुर्ग व्‍यक्ति ने अपने बेटे को यूपी के एक कॉलेज से बुलाया ताकि वह एक मासूम बच्‍ची के साथ बलात्‍कार कर सके.

मेरे पिता निर्दोष हैं. इस मामले की निष्‍पक्ष जांच होनी चाहिए. वहीँ जाँच टीम ने चौ. चरण सिंह कॉलेज में भी जाँच की लेकिन कॉलेज प्रशासन का कहना है कि इस हत्या वाले दिन विशाल कॉलेज में परीक्षा दे रहा था.”

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here