नवजोत सिंह सिद्धू ने बोला ऐसा झूठ जिसे खुद कांग्रेसी पचा नहीं पाएंगे !

0
137

पंजाब के मंत्री और कांग्रेस नेता नवजोत सिंह सिद्धू ने रविवार को नई दिल्ली के इंदिरा गांधी इंडोर स्टेडियम में पार्टी के 84वें अधिवेशन को संबोधित करते हुए खुद को गरीब करार दिया। नवजोत सिंह सिद्धू का यह झूठ लोग अब पचा नहीं पा रहे हैं।इससे ठीक पहले कांग्रेस में जाकर पंजाब में मंत्री बने सिद्धू ने पंजाब विधान सभा चुनावों के दौरान अपने चुनावी हलफनामे में खुद को करोड़पति बताया था।

रविवार को अपने भाषण में केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार पर निशाना साधते हुए सिद्धू ने कहा कि मोदी सरकार की वजह से विजय माल्या और नीरव मोदी जैसे लोग देश के गरीबों का खून चूसकर भाग खड़े हुए हैं। उन्होंने कहा कि चोर-चोर मौसेरे भाई हैं।

सिद्धू ने कहा कि इन लोगों ने देश को नीलाम कर के रख दिया है, गरीबों का, हम जैसे लोगों का खीन-पसीना, उसकी कमाई खा ली इन लोगों ने। उन्होंने कहा कि जब तक तन में गर्म लहू है, तबतक भारत माता का आंचल नीलाम होने नहीं देंगे।

जबकि करोड़पति नवजोत सिंह सिद्धू 44 लाख रुपये की घड़ी पहनते हैं। इसके अलावा उनके पास करीब 30 करोड़ की रेसिडेंशियल प्लॉट्स हैं, दो लैंड क्रूजर कार है एक मिनी कूपर समेत करीब 46 करोड़ की संपत्ति है।

क्रिकेटर से राजनेता बने और भाजपा से कांग्रेस में आए 54 साल के नवजोत सिंह सिद्धू ने 2015-16 में अपनी सालाना आय 9.66 करोड़ रुपये घोषित की थी। पंजाब चुनावों में अमृतसर पूर्वी सीट से नामांकन दाखिल करते समय सिद्धू ने रिटर्निंग ऑफिसर को सौंपे हलफनामे में पत्नी समेत करीब 6.94 करोड़ और 38.97 करोड़ रुपये की अपनी चल और अचल संपत्ति बताई थी। हलफनामे के मुताबिक उनके पास एक फॉर्च्यूनर एसयूवी और करीब 15 लाख की ज्वेलरी भी थी।

अपनी शायरी और शायराने अंदाज के लिए मशहूर सिद्धू ने कांग्रेस अधिवेशन में जोरदार भाषण दिया। उन्होंने पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह से माफी मांगते हुए उन्हें सरदार और असरदार तक कह दिया। इसे लेकर भी लोगों ने सिद्धू को जमकर सोशल मीडिया पर लताड़ लगाई थी।

कांग्रेस में आने से पहले नवजोत सिंह सिद्धू भाजपा के सांसद थे। तब वो अक्सर मनमोहन सिंह पर वार किया करते थे और उन्हें मौनमोहन कहा करते थे। नवजोत सिंह सिद्धू मनमोहन सिंह के सरदार होने पर भी सवाल उठाया करते थे।

सिद्धू मनमोहन सिंह को देश का सबसे कमजोर प्रधानमंत्री भी कहा करते थे लेकिन जब मौका मिला तो उन्होंने सभी के सामने माफी मांग ली। अपनी शायरी और बोलने की शैली के लिए मशहूर नवजोत सिंह सिद्धू ने कहा ‘मैने गंगा नहा ली सर, आपके चरणों में सिर रखकर। आप सरदार भी हैं और असरदार भी हैं।’

navjot-singh-sidhu-congress-84th-plenary-session-manmohan-singh-sardar-asardar

…जब सिद्धू की बात सोनिया ने समझाई तो मुस्कुराने लगे मनमोहन

Posted by Newsroom Post on 18 ମାର୍ଚ୍ଚ 2018

 

सिद्धू के ऐसा कहते ही पूरा हॉल तालियों की गड़गड़ाहट से गूंज उठा। हालांकि, मनमोहन सिंह शांत बने रहे लेकिन जैसे ही बगल में बैठी सोनिया गांधी ने उनसे सिद्धू की बात की चर्चा की तो मनमोहन सिंह मुस्कुराने लगे। पूर्व पीएम के बगल में बैठे पूर्व रक्षा मंत्री ए के एंटनी और राजस्थान के पूर्व सीएम अशोक गहलोत जोरदार तरीके से हंसने लगे।

कांग्रेस में आने से पहले नवजोत सिंह सिद्धू भाजपा के सांसद थे। तब वो अक्सर मनमोहन सिंह पर वार किया करते थे। सिद्धू ने इसी मंच से राहुल गांधी की तारीफ भी की और कहा कि आप ही देश के अगले प्रधानमंत्री हो। उन्होंने कहा, “राहुल भाई समेट लो, अगले साल लाल किले पर आप ही झंडा फहराओगे।”

इसके बाद तो लोगों ने जमकर नवजोत सिंह सिद्धू की ट्विटर पर क्लास लगा दी और उन्हें बिन पेंदी का लोटा तक कह डाला।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here