पाक के ख़िलाफ़ मोदी सरकार की एक और ‘सर्जिकल स्ट्राइक’ इस बार उसकी सीमा में घुसकर नहीं बल्कि..

0
205

पाकिस्तान की सौ नीच चालों का बदला एक वार में लेते हुए अब मोदी सरकार ने एक ऐसा कदम उठा लिया है जिसे जानने के बाद पाकिस्तान तो अपनी किस्मत पर रोयेगा ही साथ ही विपक्ष के मुंह पर भी ऐसा ताला जड़ जायेगा जिसके बाद वो मोदी सरकार के बारे में कुछ भी बोलने से पहले सौर बार सोचेंगे.

दरअसल इस बार अपने आप में एक बेहद ऐतिहासिक कदम उठाते हुए मोदी सरकार ने पाकिस्तान को मिलने वाले पानी का ज़रिये बंद करने का एक ऐसा फैसला लिया है जिसके बारे में जानकर पाकिस्तान भी सकते में आ सकता है.

“अब बूँद-बूँद पानी को तरसेगा टेररिस्टतान”

हाल ही में मोदी सरकार के केन्द्रीय मंत्री नितिन गडकरी ने पाकिस्तान को उसकी औकात याद दिलाते हुए एक बयान दिया है जिसमें उन्होंने साफ़ कहा है कि अब हमारे देश की तीन नदियों का पानी अब पाकिस्तान नहीं जायेगा. नितिन गडकरी ने बताया है कि अब इन नदियों का पानी बाँध बनाकर भारत में ही रोक लिया जायेगा जिससे फ़ायदा ये होगा कि हरियाणा में कृषि कार्य में मदद मिलेगी और साथ-ही-साथ पानी की समस्या से भी छुटकारा मिल जाएगा.

आगे नितिन गडकरी ने बताया कि, “प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने किसानों को लागत मूल्य का डेढ़ गुना दाम देने का जो विश्वास दिया है वो अपने इस वादे को भी जल्द-से-जल्द पूरा करके दिखाएंगे.”

अबतक भारत की 3 नदियों का पानी पहुंचता था पाकिस्तान-

उत्तराखंड में जल्द ही तीन बांधों का निर्माण किया जायेगा जिससे भारत का पानी भारत में ही रहेगा और इसका सीधा लाभ हमारे अन्नदाताओं को मिलेगा. नितिन गडकरी ने ये बात हरियाणा के रोहतक में सोमवार को आयोजित तीसरे ‘एग्री लीडरशिप समिट’ में किसानों को संबोधित करते हुए बताई.

अपने इस प्लान को विस्तार से बताते हुए नितिन गडकरी ने बताया कि, इन बांधों से पानी को यमुना नदी से होते हुए हरियाणा लाया जायेगा जिससे राज्य में जो भूमि सिंचाई से वंचित रह गयी है उनकी पानी की किल्लत दूर हो जाएगी.

अपने इस संबोधन में नितिन गडकरी ने ये भी बताया कि भारत-पाकिस्तान विभाजन के समय भारत को तीन नदियाँ सतलुज,रावी, और ब्यास मिली थी और पाकिस्तान को सिंधु,झेलम,और चेनाब मिली थी. नदियाँ बराबर हैं लेकिन फिर भी आजतक भारत की तीन नदियों का पानी पाकिस्तान जाता था, लेकिन अब इसे जो रोकने का फैसला लिया है उससे पाकिस्तान को एक तगड़ा झटका लगना तय है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here