5 बार नमाजी मौलाना ने अपनी ही 5 साल की बेटी को बनाया हवस का शिकार, कारण जान इस्लाम से नफरत करेंगे आप..देखिये वीडियो

0
1218

इस्लाम का घिनौना रूप सामने आया है उसे जानकर आप इस्लाम से नफरत करे बिना नहीं रह पाएंगे, दरअसल इस्लाम के प्रचारक मौलाना ने अपनी ही 5 वर्षीय बेटी को हवस का शिकार बनाया और इसके पीछे जो कारण बताया है वो काफी भयावह है जो कि इस्लाम के लिए किसी के भी दिल में नफरत पैदा कर सकता है |

सऊदी का रहने वाला इस्लाम का प्रचारक शेख फहयान-अल-घामदी ने अपनी 5 साल की बेटी के साथ वो काम किया है जो आपके रोंगटे खड़े कर सकता है | इसने अपनी पांच वर्षीय बेटी लामा के साथ काफी ज्यादा बर्बरता की, इसके पीछे जो कारण है वो यह है कि फहयान को अपनी बेटी पर शक था कि वो वर्जिन है या नहीं! इसीलिए इसने अपनी बेटी के साथ रेप किया |

रांदा-अल-कलीब नाम के एक सामाजिक कार्यकर्ता है, और ये उसी हॉस्पिटल में काम करते है जहाँ लामा भर्ती थी, इन्होने बताया कि लामा गंभीर रूप से घायल थी और उसके साथ बार बार बलात्कार किया गया था |

इस घटना से भी ज्यादा आश्चर्य की बात तो यह है कि फहयान जैसे दरिन्दे को इसकी जो सजा मिली है वो इस्लाम की गंदी सच्चाई बयान करती है | इतनी बड़ी घिनौनी बात के लिए फहयान को सऊदी की कोर्ट ने महज़ कुछ महीनों की जेल दी है | और लगभग 50 हजार डॉलर पेनल्टी भरने को कहा है | और ये रूपये उसे लामा की माँ यानि कि अपनी ही पत्नी को देने होंगे

सऊदी में इस्लाम का कानून चलता है और इस क़ानून के तहत किसी को भी अपने बच्चों की हत्या करने की सजा नहीं दी जा सकती और न ही अपनी पत्नी की हत्या की सजा दी जा सकती है |

गौरतलब है कि इस दरिन्दे ने अपनी बेटी के साथ सिर्फ बलात्कार ही नहीं बल्कि बहुत ज्यादा मारपीट भी की थी और उसे काफी समय तक टॉर्चर भी किया, बार-बार कुकर्म भी किया और अंततः लामा की अक्टूबर में मौत हो गयी | लेकिन उसके बाद भी इस्लामी प्रचारक को अपने किये पर पछतावा नहीं है, क्योंकि इस्लाम इसकी मान्यता देता है |

ये खबर दुनियाभर के अखबारों ने प्रमुखता से छापी है हालाँकि भारत में इस खबर को किसी भी अखबार ने तवज्जो नहीं दी जबकि यह खबर इस्लाम का घिनौना सच उजागर करती है | इस घटना के खिलाफ ट्विटर पर वहां के सामाजिक कार्यकर्ताओं ने #AnaLama कैंपेन भी चलाया हुआ है जो कानून में बदलाव की मांग कर रहे है.

“>वीडियो में देखिये दरिन्दे बाप की करतूत.. |

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here