राम मंदिर को लेकर संघ प्रमुख मोहन भागवत का बड़ा बयान, अगर नहीं बना मंदिर तो…

0
182

नई दिल्ली संघ प्रमुख मोहन भागवत ने राम मंदिर को लेकर बड़ा बयान दिया है। उन्होंने कहा कि अगर राम मंदिर नहीं बनता है तो हमारी संस्कृति की जड़ें कट जाएंगी। भागवत ने यह बयान पालघर जिले के दहानू में विराट हिंदू सम्मेलन के दौरान दिया। भागवत ने कहा कि भारत में मुस्लिम समुदाय ने राम मंदिर को नहीं तोड़ा है, भारतीय नागरिक कभी ऐसा नहीं कर सकते हैं, यह विदेशियों ने भारतीयों का मनोबल तोड़ने के लिए किया है।

भागवत ने कहा कि आज विदेशियों ने भारत के लोगों का मनोबल तोड़ने के लिए मंदिर को तोड़ा था, लेकिन आज हम आजाद हैं, ऐसे में हमे फिर से अधिकार है कि राम मंदिर का फिर से निर्माण कर सके। उन्होंने कहा कि वह सिर्फ मंदिर नहीं था बल्कि हमारी पहचान का प्रतीक था।

ऐसे में अगर अयोध्या में फिर से मंदिर नहीं बनाया गया तो हमारी संस्कृति की जड़े टूट जाएंगी। राम मंदिर निर्माण के बारे में भागवत ने कहा कि इसमे कोई शक नहीं है कि राम मंदिर का फिर से निर्माण होगा जहां पहले वह था।

तमाम विपक्षी दलों पर हमला बोलते हुए भागवत ने कहा कि देश के कई हिस्सों में जो जातिगत हिंसा हुई है उसके लिए विपक्षी दल जिम्मेदार हैं। उन्होंने कहा कि जिन लोगों की दुकानें बंद हो गई हैं वो लोग अब जाति का मुद्दा उठाकर लोगों को लड़ाने के लिए उकसा रहे हैं।

आपको बता दें कि 2 अप्रैल को एससी एसटी एक्ट पर सुप्रीम कोर्ट के फैसले के विरोध में भारत बंद का आयोजन किया गया था, जिसमे हुई हिंसा में कई लोग मारे गए थे। गौरतलब है कि मौजूदा समय में राम मंदिर का मुद्दा सुप्रीम कोर्ट में है और इस मामले में दोनों ही पक्ष एक दूसरे के आमने सामने हैं।

आर्ट ऑफ लिविंग के संस्थापक श्री श्री रविशंकर इस मसले को सुलझाने के लिए एक पहल की थी और सभी पक्षों से मुलाकात की थी, लेकिन उनकी इस पहल को कई लोगों ने गलत बताते हुए इसकी आलोचना की थी। बहरहाल इस मामले में निश्चत समय के भीतर फैसला कोर्ट दे सकता है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here