सेना के लिए मोदी ने टाटा के साथ मिलकर उठाया ऐतिहासिक कदम, दिया शानदार तोहफा, ख़ुशी से झूम उठे जवान

0
216

भारतीय सेना के जवान अपनी हर ख़ुशी घर परिवार से दूर रहकर, अपनी जान हथेली पर रखकर हमारी रक्षा करते हैं, ऐसे में भारत सरकार की भी ज़िम्मेदारी बनती है कि जवानों को अच्छी से अच्छी सुविधा मिल सकें. पिछली कांग्रेस सरकार में खुलेआम घोटाले हुए, जीप, तोप, हेलीकॉप्टर, लड़ाकू विमान,पनडुब्बी. सेना के हर क्षेत्र में घोटाले किये गए.

जिसके बाद खबर ये भी सुनने कि मिलती रहती थी कि सेना के पास युद्ध लड़ने का 7 दिन से ज़्यादा का गोला बारूद ही नहीं है. कांग्रेस सरकार के जाने के बाद पता चला सेना को सर से पैर तक बदलाव और आधुनिकता की ज़रूरत थी. मोदी सरकार ने आते ही जवानों के भत्ते को दुगना किया उसके बाद पुरानी एक-47 की जगह सवा लाख से ज़्यादा आधुनिक राइफल, तो अभी हाल ही में बुलेटप्रूफ हेलमेट, जैकेट, बुलेटप्रूफ गाड़ियां. याद कीजिये एक समय था जब सेना को टेम्पो में सीमा पर पेट्रोलिंग करना पड़ता था.

पाकिस्तान में घुसकर मार गिराने वाली सेना को मोदी का शानदार तोहफा

पिछली सरकारों ने हमारी सेना को बेचारा बना के रखा था. आज वही सेना एक इशारे पर पाकिस्तान में घुस कर सर्जिकल स्ट्राइक और ड्रोन अटैक करने को बेताब है.ऐसे में अब एक बार फिर मोदी सरकार ने रतन टाटा के साथ मिलकर सेना के लिए ऐतिहासिक बदलाव कर दिया है, जिसे देख आप भी गर्व महसूस करने लगेंगे.

रतन टाटा संग मिलकर उठाया ऐतिहासिक कदम

अभी मिल रही ताज़ा खबर के मुताबिक मोदी सरकार ने जाने माने बिज़नेस मैन रतन टाटा के साथ मिलकर सेना को अत्यधुनिक तकनीक से लैस और दिखने में बेहद शानदार टाटा मोटर्स की तरफ से नई गाड़ियां मिली हैं. ये गाड़ियां हैं TATA SAFARI STORM. इस ऐतिहासिक कदम ने सेना में जैसे नयी जान फूंक दी है.

ये नई गाड़ियां भारतीय सेना में अरसे से चल रही और पुरानी तकनीक वाली मारुति सुजुकी की जिप्सी को रिप्लेस करेगी. इतने साल बीत गए लेकिन सेना वही पुरानी जिप्सी चलती आ रही थी. अपने शानदार स्टाइल और दमदार फीचर्स वाली इस गाड़ी की तस्वीरें नीचे दी गयी हैं. जिन्हे आप देख सकते हैं. कुछ गाड़ियों के फीचर्स हम सुरक्षा के लिहाज़ से नहीं बता पाएंगे.

पुरानी जिप्सी की जगह अब सेना दौड़ाएगी टाटा सफारी स्टॉर्म

बता दें मोदी सरकार के साथ मिलकर टाटा मोटर्स ने तकरीबन एक साल पहले इंडियन आर्मी को सफारी स्टॉर्म की 3,192 यूनिट्स देने का फैसला किया था. जिन्हे अब दिया जा चुका है. जल्द ही और भी गाड़ियां बनकर सेना तक पहुंच जाएँगी. अब इस गाड़ी की तस्वीरें सामने आई हैं. तस्वीरों में यह गाड़ी बेहद शानदार और दमदार दिख रही है.

टाटा मोटर्स ने आर्मी को दी जाने वाली सफारी स्टॉर्म को स्पेशली मैटे ग्रीन कलर से पेंट किया है. प्लास्टिक पार्ट्स को भी इसी रंग में रंग गया है. इसमें क्रोम का इस्तेमाल नहीं किया गया है. इसमें फुटबोर्ड और रूफ रेल्स, दो ऐसी ऐक्सेसरीज हैं जिनको हरे रंग से नहीं रंगा गया है.

गाड़ी में पीछे पिंटल हुक, बोनट पर ऐंटीना और फ्रंट बंपर पर स्पॉटलाइट्स दिए गए हैं. इसमें बेहतरीन अंडरबॉडी सेफ्टी दी है. इसका सस्पेंशन भी जबरदस्त बनाया गया है. गाड़ी में इसमें हाई ग्राउंड क्लियरेंस, 4 वील ड्राइव और लैडर-ऑन-फ्रेम चेसिस दी गई है.

टाटा सफारी के इस आर्मी एडिशन में आगे और पीछे ब्लैक आउट लैंप दिए गए हैं. ऐसा इसलिए ताकि युद्ध जैसी स्थिति में इसे रात में आसानी से देखा न जा सके. पिछली पुरानी जिप्सी में Air conditioning नहीं थी लेकिन अब सेना को सफारी स्टॉर्म में 800kg भार क्षमता के साथ एयर कंडीशनिंग भी मिल रही है.

हमारे जवानों जो अपने खून का एक-एक कतरा देश पर न्योछावर कर देते हैं उन्हें जितनी सुविधाएं दी जाएँ वो भी कम हैं. रतन टाटा एक बिज़नेस मैन के साथ साथ देशभक्त भी हैं. सेना की हर ज़रूरत को पूरा करने के लिए वे तैयार हैं और मौजूद सरकार घोटाले भी नहीं कर रही है.

रतन टाटा ने अभी हाल ही में सेना के लिए अपाचे लड़ाकू हेलीकॉप्टर की फैक्ट्री भी शुरू करी है. जिसका उद्घाटन रक्षामंत्री निर्मला सीतारमण ने किया था. इसमें अमेरिकी सेना जैसे दमदार लड़ाकू हेलीकॉप्टर का निर्माण तेज़ी से हो रहा है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here