Major Alert!! गृह मंत्रालय की चेतावनी, अगर आपके मोबाइल में हैं ये 4 apps, तो लुट जायेगा आपका सारा धन..

0
664

यदि आपके मोबाइल में हैं ये 4 applications तो आप अपनी गोपनीय इनफार्मेशन, अपने धन और साथ ही साथ देश की सुरक्षा से कर रहे हैं बड़ा खिलवाड़ l गृह मंत्रालय को इस जानकारी की पुख्ता रिपोर्ट मिलते ही देश के सभी सुरक्षा बलों और राज्यों की खुफिया एजेसियों को पत्र लिखकर हाई अलर्ट कर दिया है और देशवासियों से कुछ विशेष मोबाइल एप डाउनलोड नहीं करने के कड़े निर्देश दिए गए हैं.

According to Government of India, App no-1 to be deleted is ‘Talking Frog’ .. it’s a pakistani app, delete from your smartphone right away.

तुरंत जानें और तुरंत ही हटायें अपने फ़ोन से ये चार खतरनाक पाकिस्तानी (Applications) एप्स जो आपके लिए भारी संकट पैदा कर सकती हैं दरअसल पाकिस्तानी एजेंसियां भारत में मोबाइल एप में मालवेयर वायरस भेजकर जासूसी कर रही हैं.

मंत्रालय का कहना है कि अगर आप खास चार एप्स का प्रयोग कर रहे हैं तो तुरंत इसे हटइए. ये 4 बेहद खतरनाक पाकिस्तानी ऐप हैं टॉप गन (गेम एप), एमपीजुंक (म्यूजिक एप), बीडीजुंकी (वीडियो एप) और टॉकिंग फ्रॉग (एंटरटेनमेंट एप). इन्हें तुरंत डिलीट करने का फरमान जारी किया गया है.

इसके अलावा पूर्व सैनिकों को नौकरी के नाम या वित्तीय सहायता की आड़ में जासूसी के प्रयास में फंसाने के मामले में देशभर से सात मामले सामने आने के बाद इसे लेकर भी अलर्ट रहने के निर्देश हैं. गृह मंत्रालय के अनुसार इन एप में पाकिस्तानी खुफिया एजेंसी वायरस भेजकर जानकारियां हासिल कर रही हैं.

मंत्रालय का कहना है कि अगर आप खास चार एप्स का प्रयोग कर रहे हैं तो तुरंत इसे हटइए. ये 4 बेहद खतरनाक पाकिस्तानी ऐप हैं टॉप गन (गेम एप), एमपीजुंक (म्यूजिक एप), बीडीजुंकी (वीडियो एप) और टॉकिंग फ्रॉग (एंटरटेनमेंट एप). इन्हें तुरंत डिलीट करने का फरमान जारी किया गया है.

वो 5 एप्स (apps) जो की आपके फ़ोन से आपकी सारी व्यक्तिगत फोटोज और विडियो चुरा कर आपसे मांग सकती हैं फिरौती में बड़ी रकम.

1) Android Defender

This one surfaced back in 2013. Android Defender is believed to be a pioneer in the array of mobile ransomware plagues accommodating rogue antivirus characteristics and the capability of locking the screen of an infected smartphone. This app is distributed via multiple shady sites, but Google’s Play Store never was one of them. Users are duped into downloading something they think is Skype with a free phone call feature.

2) Simplocker

This sample is the first-ever Android ransomware that encrypts files. It emerged from the Russian underground forum and was originally spotted in the wild in summer 2014. Simplocker represents the Reveton family known for coining the infamous police ransomware.

3) Adult Player

Adult Player claims to be a porn video player solution. It’s trickier than most counterparts as it does what’s promised for a while without locking the device. It turns out, though, that the infection uses this timeout to its advantage, taking photos of the victim with the gadget’s frontfacing the camera.

This way, it collects stronger extortion arguments than just the risk of losing personal files, threatening the person also to make some embarrassing pictures public. The phone lock routine is accompanied by a ransom screen displaying the victim’s photos.

4) Lockerpin

Lockerpin, which pretends to be yet another x-rated media content player, is distributed in a similar fashion. Reputable services like Google Play are not involved in the spreading process. This campaign, however, is a lot more hazardous because it exploits the stock screen lock features built into Android.

5) Lockdroid

This iteration of Android ransomware employs Google’s Material Design to build a trustworthy-looking user interface. Material Design is a language created by Google that features grid-based layouts, fancy depth effects, and responsive visual components to deliver intuitive experience across the company’s services.

The criminals behind Lockdroid use this style to generate counterfeit legal warnings and display the harvested device logs along with sensitive user details in a bid to make the extortion scarier and more realistic.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here