इस परिवार ने करी मोदी से अपनी बेटी का नामकरण करने की मांग, बदले मे मोदी ने दिया ऐसा जवाब, दंग रह गया पूरा देश..

0
913

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के ‘बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओ’ नारे से यूपी के मिर्जापुर का एक दंपती इतना प्रभावित हुआ कि उसने फैसला लिया- बेटी हुई तो उसका नामकरण प्रधानमंत्री से ही कराएंगे. अभी हाल ही मे उनके घर में बिटिया ने जन्म लिया. अगले दिन ही सुबह दंपती ने प्रधानमंत्री को चिट्ठी लिखकर बेटी का नाम रखने का अनुरोध किया. प्रधानमंत्री ने बच्ची का नाम ‘वैभवी’ रखने के साथ-साथ दंपती को खुद फोन कर बधाई भी दी.

मिर्जापुर जिले के सीखड़ क्षेत्र के हासीपुर गांव में रहने वाले किसान भरत सिंह और उनकी पत्नी विभा सिंह ने प्रधानमंत्री को चिट्ठी में लिखा था- ‘आप बेटियों के विकास के लिए काफी कुछ कर रहे हैं. हमारे घर भी बेटी पैदा हुई है, इसलिए हमारी इच्छा है कि बेटी का नाम आप ही रखें.

एक हफ्ते बाद ही आ गया फोन

चिट्ठी भेजे जाने के एक हफ्ते बाद भरत के मोबाइल पर प्रधानमंत्री कार्यालय से फोन आया. भरत की खुशी का ठिकाना नहीं रहा. फिर भी भरत ने पुष्टि के लिए कहा कि वो कैसे यकीन करें कि प्रधानमंत्री ही बात करेंगे.

इस पर दूसरी तरफ से कहा गया कि प्रधानमंत्री ही बात करेंगे. फिर दूसरी तरफ से प्रधानमंत्री मोदी की आवाज आई. उन्होंने कहा- ‘भरत जी आप का पत्र मिला, आपके घर बेटी पैदा हुई इसके लिए आपको बधाई.’ प्रधानमंत्री ने बेटी का नाम वैभवी रखने का सुझाव दिया.

प्रधानमंत्री ने ये भी कहा कि वैभवी में माता और पिता दोनों के नाम के अक्षर भी आते हैं. प्रधानमंत्री ने बिटिया के उज्ज्वल भविष्य की कामना भी की. भरत के परिवार ने जब पड़ोसियों को ये बात बताई तो पहले तो किसी ने यकीन ही नहीं किया.

किसी ने कहा कि प्रधानमंत्री के नाम से किसी ने उन्हें फोन कर मजाक किया है. इसके कुछ दिन बाद भरत सिंह के बताए पते पर प्रधानमंत्री कार्यालय से पत्र भी आ गया जिसमें बिटिया का नाम वैभवी रखे जाने के प्रधानमंत्री के सुझाव का भी जिक्र था.

भरत सिंह और विभा सिंह का कहना है कि वो बिटिया को अंतरर्राष्ट्रीय स्तर की खिलाड़ी बनाना चाहते हैं जिससे वह एक दिन देश का नाम रोशन करे.

क्‍या कहती हैं वैभवी की मां

मांं विभा का कहना है कि उन्‍होंने कभी नहीं सोचा था कि उनको बेटी होगी तो उसका नामकरण प्रधानमंत्री द्वारा किया जाएगा। जब बेटी हुई तो उन्‍होंने पति भरत के साथ मिलकर मोदी को पत्र लिखा।  मोदी द्वारा बेटी का नामकरण होने की बात जब उसने अपने गांव मे बताई तो किसी को यकीन नहीं हुआ। जब मोदी का बधाई पत्र मि‍ला, तब जाकर ग्रामीणों को विश्‍वास हुआ।

पूरे गांव में हो रही है प्रशंसा

पूरे गांव में पीएम के इस कार्य की प्रसंशा हो रही है।  वैभवी के परिवार को लगातार लोग बधाई देने पहुंच रहे हैं।

ये विडियो भी देखें :

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here