शास्त्रों के अनुसार इन आदतों से घटती हैं उम्र, विशेषकर शनिवार को भूलकर भी नहीं करना चाहिए ऐसा…

0
218

विज्ञान के इस युग में हम भले ही धर्मग्रंथो के ज्ञान को भूला दें, पर वास्तव में ये आज भी हमारे लिए उतने ही हितकारी और महत्वपर्ण हैं जितने कि प्राचीन काल में थे। असल में साइंस के पास भले ही हमारी हर समस्या का समाधान है, लेकिन धर्म ग्रंथ और शास्त्र हमें वे मार्ग बताते हैं जिनका पालन कर हम ऐसी समस्याओं का सामना करने से बचे रह सकते हैं।

आज तकनीकि रूप में हम भले ही दिन पर दिन प्रगति करते जा रहे हैं पर वास्तव में मनुष्य की औसत आयु पहले से कम हो गई है जिसका एक बड़ा कारण हैं हमारी जीवनशैली, हमारी आदते । वहीं धर्म ग्रंथों में ऐसी आदतों के प्रति मनुष्य को चेताया गया है। आज हम आपको धर्म ग्रंथ में बताई गई कुछ ऐसी आदतों के बारे में बताने जा रहे हैं..

लोग अपनी और अपने प्रियजनो की लम्बी उम्र के लिए हमेशा भगवान से प्रार्थना करते हैं, धर्म के अनुसार सभी कर्म-काण्ड करते हैं, पर वहीं उन बातों पर ध्यान नहीं देते हैं जिनसे उनकी जीवन-आयु पर नकारात्मक प्रभाव पड़ता है।

जी हां, धार्मिक मान्यताओं के अनुसार मनुष्य के कुछ कर्म उसके लिए हितकारी नहीं होते हैं और ऐसे कर्मों के फलस्वरुप व्यक्ति की आयु कम होती है। दरअसल धार्मिक मान्यताओं की माने तो इन कार्यों से मृत्यु के देवता यमराज नाराज होते हैं और यही वजह है कि ऐसी आदतें शीघ्र मृत्यु का कारण बनती हैं।

प्रमुख हिन्दू धर्म ग्रंथों में से एक महाभारत में ऐसी कार्यों के बारे में विस्तार से बताया गया है जिसका मनुष्य की आयु पर नकारात्मक असर पड़ता है।

महाभारत के ‘अनुशासन पर्व’ के अनुसार जो लोग ‘धर्म’ की नीतियों का उल्लंघन करते हैं, ऐसे लोगों की आयु कम होती जाती है। वहीं जो धार्मिक मर्यादाओं का पालन करते हैं और सत्य का साथ कभी नहीं छोड़ते, ऐसे मनुष्य 100 वर्ष जीते हैं।

व्यक्ति के व्यवहार के साथ उसकी आदतें भी उसके आयु पर प्रभाव डालती हैं, जैसे जो व्यक्ति अक्सर नाखून चबाता है या फिर गंदगी से रहता है, उसकी आयु भी कम होती चली जाती है

वहीं महाभारत के अनुशासन पर्व के अनुसार पढ़ाई करते वक्त कभी भी कुछ खाना नहीं चाहिए, क्योंकि इससे यमराज नाराज हो सकते हैं और व्यक्ति जल्द ही काल का भागी बन सकता है।

शास्त्रों की माने तो आकाश में चढ़े हुए सूरज की तरफ आंखें उठाकर देखने से भी उम्र कम होती है और ऐसा करने वाला व्यक्ति शीघ्र ही मृत्यु को प्राप्त होता है।

वहीं भोजन से जुड़ी एक धार्मिक मान्यता ये भी है कि भोजन करते वक्त बीच में खाना छोड़कर जुठे मुंह नहीं उठना चाहिए और अगर आप उठ भी जाते हैं तो दोबार जुठे हाथ भोजन शुरू नहीं करना चाहिए, ऐसा करने से उम्र घट सकती है।

धार्मिक मान्यता के अनुसार, शनिवार और मंगलवार के दिन कभी भी बाल नहीं कटवाना चाहिए। ऐसा करने से आयु घटती हैं।

साथ ही शास्त्रों में सूर्योदय और सूर्यास्त के समय सोना निषेध बताया गया है, शास्त्रों के अनुसार ऐसा करना सीधे यमराज को आमंत्रण है.. सूर्योदय और सूर्यास्त के समय सोने से शरीर बिमारियों से घिर जाता और फलस्वरुप वयक्ति शीघ्र ही मृत्यु को प्राप्त करता है।

वास्तुशास्त्र में भी उम्र को लेकर ऐसी कई सारी बातें बताई गई हैं। जैसे कि मुख्य द्वार के सामने पैर करके कभी नहीं सोना चाहिए। मान्यता है कि ऐसा करने से यमराज नाराज होते हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here