मोदी राज में भारत ने विश्व स्तर पर गाड़ा झंडा,आयी शानदार रिपोर्ट, तोड़ डाले अब तक के सारे रिकॉर्ड, विरोधियों के उड़े परखच्चे..

0
282

भारत आज तेज़ी से वैश्विक शक्ति बनने की ओर बढ़ चला है. दुनिये के बड़ी आर्थिक एजेंसियां आज भारत की अर्थव्यवस्था देख अचंभित हैं. वर्ल्ड बैंक, IMF, वर्ल्ड इकनोमिक फोरम, moodys , नोमुरा, यहाँ तक UN भी 2020 तक भारत की जीडीपी को 7.5% से ऊपर बता रहा है.

मोदी राज में भारत को लेकर आयी ट्रैवल एंड टूरिज्म काउंसिल आयी ज़बरदस्त रिपोर्ट

70 सालों में जो नहीं हुआ वो आज संभव हो रहा है. यही वजह है कि 2018 के शुरू होते ही भारत चीन को पछाड़ते हुए दुनिया की सबसे तेज़ गति से बढ़ने वाली अर्थव्यवस्था बन गया है. तो वहीँ अब दशकों से डूब रहे पर्यटन क्षेत्र पर World Travel & Tourism Council (WTTC) ने विश्व स्तर पर रिपोर्ट दी है जिसे देख आपका सीना भी गर्व से फूल उठेगा.

अभी मिल रही बहुत बड़ी खबर के मुताबिक देश में पर्यटन को बढ़ावा देने के प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के प्रयासों से ज़बरदस्त रिपोर्ट आ रही है. World Travel & Tourism Council (WTTC) ने विश्व स्तर पर जारी की गई अपनी एक रिपोर्ट में बताया है कि अगले 10 वर्षों में भारत विश्व की तीसरी सबसे बड़ी टूरिज्म इकोनॉमी बन जाएगा.

70 सालों में नहीं हुआ आज तक ऐसा

वर्ल्ड ट्रैवल एंड टूरिज्म काउंसिल (डब्ल्यूटीटीसी) की रिपोर्ट ने देश की कुल जीडीपी और टूरिज्म से होने वाली आय के आंकड़ों के विश्लेषण के आधार पर यह बात कही है. डब्ल्यूटीटीसी ने गुरुवार को अपनी यह रिपोर्ट जारी की है. जिसके अनुसार 2028 तक टूरिज्म के क्षेत्र में भारत में 1 करोड़ से ज़्यादा नई नौकरियां पैदा होंगी. इसके अलावा ट्रैवल एंड टूरिज्म में सीधे और परोक्ष रूप से नौकरियां 2028 में 42.9 मिलियन से बढ़कर 52.3 मिलियन हो जाएंगी.

रिपोर्ट के मुताबिक भारत अभी विश्व की सातवीं सबसे बड़ी टूरिज्म इकोनॉमी है और टूरिज्म इंफ्रास्ट्रक्चर में मजबूती से इसमें और तेजी आने की संभावनाएं हैं. लेकिन अगर इसी गति से प्रगति करता रहा तो वो दिन दूर नहीं जब भारत दुनिया की सबसे बड़ी टूरिज्म इकोनॉमी होगा.

विदेशी दौरों का मिल रहा फायदा

पीएम मोदी जितनी बार विदेशी दौरे पर जाते हैं वहां बसे भारतियों को भारत की संस्कृति की असली पहचान करवाते हैं. तेज़ी से हर क्षेत्र में तरक्की कर रहे एक उज्जवल भारत की पहचान कराते हैं. लेकिन कांग्रेस ने पीएम मोदी के हर विदेशी दौरों का सिर्फ मज़ाक उड़ाया है, जबकि राहुल गाँधी अभी विदेश गए थे उन्होंने वहां भारत को गिरता हुआ बताया था. लेकिन अंत में जब आंकड़े आते हैं तो पता चल ही जाता है कि किसके दावे में कितना दम है.

सारे रिकॉर्ड धराशायी

मोदी सरकार के राज में पिछले कई दसियों सालों से सुस्त पड़ा पर्यटन क्षेत्र अब न सिर्फ खड़ा हो गया है बल्कि बुलेट ट्रैन की तेज़ी से दौड़ भी रहा है. पिछले 70 सालों में जो नहीं हुआ वो अब हो रहा है. सारे रिकॉर्ड धराशायी होते जा रहे हैं और सरकारी ख़ज़ाने में झमाझम पैसा बरस रहा है.

सरकारी ख़ज़ाने में बरसा पैसा

आप यकीन नहीं करेंगे मोदी सरकार ने पर्यटन क्षेत्र का कायाकल्प कर दिया है. भारत विदेशी पर्यटकों के लिए पसंदीदा जगह बनता जा रहा है. साल 2017 भारत के पर्यटन क्षेत्र के लिहाज से ज़बरदस्त साबित हुआ. बीते साल भारत आने वाले विदेशी पर्यटकों की संख्या 1 करोड़ के पार पहुंच गई तो दूसरी तरफ इससे होने वाली आमदनी भी 27 अरब डॉलर यानी 1728 अरब रुपये के शानदार आंकड़े तक पहुंच गयी.

CEO ग्लोरिया गुएवारा हुई पीएम मोदी की मुरीद

WTTC की प्रेसिडेंट और CEO ग्लोरिया गुएवारा ने मोदी सरकार की रीजनल कनेक्टिविटी स्कीम की तारीफ की जिसके तहत 350 एयरपोर्ट और और हवाई पट्टियों को विकसित किया जाना है. उन्होंने कहा कि मौजूदा सरकार ने विदेशी पर्यटकों को आकर्षित करने के लिए कई बड़े कार्य किए हैं। 163 देशों के लिए ई-वीजा शुरू करना और इन्क्रेडिबल इंडिया 2.0 कैंपेन को अच्छी मार्केटिंग और पीआर रणनीति के साथ लॉन्च करना भी एक अच्छा कदम है.

ये तो कुछ भी नहीं मौजूदा मोदी सरकार में पर्यटन के क्षेत्र में भारत की रैंकिंग तेजी में ऊपर गई है. Travel and Tourism Competitive Index (TTCI) 2017 में भारत 2013 की तुलना में 25 पायदान ऊपर पहुंच गया. TTCI की रिपोर्ट में भारत का स्‍थान 40वां था, जबकि 2015 में यह 52वें और 2013 में 65वें स्‍थान पर था.

पीएम मोदी ने खुद विश्व के कई देशों में दौरा किया जिसका विरोधियों ने तो मज़ाक उड़ाया लेकिन वहां के नागरिकों को भारत की विविधिता पूर्ण संस्कृति का अनुभव करने के लिए पीएम मोदी ने आमंत्रित किया. मोदी सरकार की इसी नीति का असर दिखने लगा है।

केपीएमजी और फिक्की की टूरिज्म सेक्टर पर ‘Expedition 3.0: Travel and hospitality gone digital’ शीर्षक वाली रिपोर्ट के अनुसार भारत में 2017 में ट्रैवल और टूरिज्म सेक्टर में 2 करोड़ 59 लाख रोजगार के अवसर मिले हैं. इतना ही नहीं टूरिज्म सेक्टर ने जीडीपी में 141.1 बिलियन का योगदान दिया है.

ये विडियो देखें :

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here